Breaking News
Home 25 दिल्ली 25 दिल्ली पुलिस में बड़ा फेरबदल प्रियंका कश्यप बनी डीसीपी ईस्ट, दीपक यादव ईस्ट से नई दिल्ली पहुंचे

दिल्ली पुलिस में बड़ा फेरबदल प्रियंका कश्यप बनी डीसीपी ईस्ट, दीपक यादव ईस्ट से नई दिल्ली पहुंचे

Spread the love

नई दिल्‍ली। बीती रातदिल्ली पुलिस में कई बड़े फेरबदल हुए हैं. कई आईपीएस अधिकारियों को दिल्ली में इधर से उधर नई जगह तैनाती मिली है. सूची में दिल्ली के बाहर की पोस्टिंग काटकर वापिस लौटे दो अधिकारियों को भी महकमे में नई तैनाती दी गई है. तबादला सूची में 7 आईपीएस सहित 9 अफसरों के नाम का उल्लेख है. जारी तबादला सूची में दो जिलों में नए डीसीपी की भी तैनाती का जिक्र है.

जिन जिलों को नए डीसीपी मिले हैं, उनमें नई दिल्ली और पूर्वी दिल्ली जिला शामिल हैं. पूर्वी दिल्ली जिले को महिला डीसीपी मिली हैं. तबादला सूची के मुताबिक 1996 बैच के आईपीएस अधिकारी और अब तक दिल्ली ट्रै्फिक पुलिस में संयुक्त आयुक्त पद पर तैनात रहे मनीष कुमार अग्रवाल को राष्ट्रपति भवन (आरपी भवन) भेजा गया है.

भीष्म सिंह को सिंक्योरिटी विंग भेजा गया

तबादला सूची में दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के डीसीपी भीष्म सिंह के भी नाम का उल्लेख है. उन्हें क्राइम ब्रांच से हटाकर दिल्ली पुलिस की सिक्योरिटी विंग में भेजा गया है. मनीष कुमार अग्रवाल लंबे समय से दिल्ली ट्रैफिक पुलिस में तैनात थे. मनीष कुमार अग्रवाल को राष्ट्रपति भवन भेजे जाने से रिक्त हुए ज्वाइंट सीपी ट्रैफिक के पद पर उनसे जूनियर 1998 बैच के आईपीएस अधिकारी संजय कुमार को नियुक्त किया गया है.

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस में संयुक्त आयुक्त बनाए गए संजय कुमार हाल ही में दिल्ली से बाहर की अपनी पोस्टिंग/तैनाती अवधि पूरी करके वापिस लौटे हैं.  इसी तरह स्टेट पुलिस सर्विस से 2004 आईपीएस कैडर में आने वाले रविंद्र कुमार पांडे जोकि अब तक राष्ट्रपति भवन में एडिश्नल पुलिस कमिश्नर के पद पर तैनात थे.

तीन जिलों में तीन महिला डीसीपी की तैनाती

रविंद्र कुमार पांडे को राष्ट्रपति भवन से हटाकर दिल्ली पुलिस विजिलेंस ब्रांच में एडिश्नल पुलिस कमिश्नर पद पर ही भेजा गया है. 2010 बैच के आईपीएस अधिकारी सागर सिंह कलसी हाल ही में दिल्ली से बाहर की तैनाती अवधि पूरी करके वापिस राजधानी लौटे हैं. उनको डीसीपी प्रॉवीजन एंड लाइंस बनाकर भेजा जा रहा है. जबकि यहां (डीसीपी प्रॉवीजन एंड लाइंस) पहले से तैनात 2009 बैच की महिला आईपीएस अधिकारी प्रियंका कश्यप को अब पूर्वी दिल्ली जिले का डीसीपी बनाया गया है. पियंका के पति कार्तिक कश्‍यप भी आईपीएस है. चंडीगढ में जन्‍मी, पली बढी और पढाई करने के बाद इंजीनियर बनी प्रियंका बाद में सिविल सर्विस की परीक्षा के जरिए आईपीएस बनी. दिल्‍ली से पहले उन्‍होंने गोवा में मिजोरम में नियुक्ति के दौरान कई चुनौती भरे कामों को अंजाम दिया है.

यहां उल्लेखनीय है कि दिल्ली में 15 जिले हैं. इन 15 जिलों में से दो जिलों में पहले से ही महिला डीसीपी तैनात हैं. यह जिले हैं उत्तर पश्चिमी दिल्ली जिला (ऊषा रंगनानी) और पश्चिमी दिल्ली जिला (उर्विजा गोयल). इस नजरिए से मौजूदा वक्त में दिल्ली में अब तीन महिला आईपीएस तीन जिलों की डीसीपी होंगी.

दीपक यादव को नई दिल्ली में तैनाती मिली

अब तक पूर्वी दिल्ली जिले में 2011 बैच के आईपीएस अधिकारी दीपक यादव तैनात थे. उन्हें पूर्वी दिल्ली जिला डीसीपी के पद से हटाकर नई दिल्ली जिले का डीसीपी बनाया गया है. दीपक यादव को नई दिल्ली में डीसीपी बनाकर भेजे जाने के बाद ही खाली हुए पद पर प्रियंका कश्यप को प्रॉवीजन एंड लाइन डीसीपी से हटाकर पूर्वी दिल्ली जिले का डीसीपी बनाया गया है.

कई जगहों पर यूपी की सीमाओं से जुड़ा होने के कारण पूर्वी दिल्ली जिला हमेशा दिल्ली के बाकी 15 जिलों में से कहीं ज्यादा संवेदनशील जिलों की गिनती में शुमार होता है. उल्लेखनीय है कि बीते साल से निरंतर जारी किसान आंदोलन-धरना का पहला कहिए या फिर दूसरा गढ़ भी पूर्वी दिल्ली जिले गाजीपुर थाना क्षेत्र इलाके में ही गाजीपुर बार्डर पर है.

पूर्वी दिल्ली जिले से हटाकर नई दिल्ली जिले के डीसीपी बनाए गए आईपीएस अधिकारी दीपक यादव को भेजने की पीछे की एक प्रमुख वजह यह भी बताई जा रही है कि देश की राजधानी में यह जिला संवेदनशीलता की नजर से पहले पायदान पर गिना जाता है. दीपक यादव एडिश्नल डीसीपी के बतौर नई दिल्ली जिले में लंबे वक्त तक तैनाती का भी अनुभव रखते हैं. पूर्वी दिल्ली जिले का फुल-फ्लैश डीसीपी बनाए जाने से पहले तक वे नई दिल्ली जिले में ही एडिश्नल डीसीपी के पद पर तैनात रहे थे.

यहां से पूर्वी दिल्ली में जब उन्होंने जिला डीसीपी का पद संभाला तो उन्हें सीधे-सीधे मोर्चे पर डटे किसानों से ही मोर्चा लेना पड़ा था. दरअसल नई दिल्ली जिले के डीसीपी रहे डॉ. ईश सिंघल को कुछ दिन पहले ही प्रतिनियुक्ति पर आईबी मे नियुक्ति मिली थी.

भीष्‍म सिंह क्राइम ब्रांच से सीधे सुरक्षा शाखा में

तबादला सूची के मुताबिक दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच में डीसीपी पद पर लंबे समय से तैनात भीष्म सिंह का भी ट्रांसफर कर दिया गया है. उन्हें क्राइम ब्रांच से हटाकर सिक्योरिटी में भेजा गया है. डीसीपी भीष्म सिंह स्टेट पुलिस सर्विस के 1997 बैच के अधिकारी हैं. उनकी गिनती दिल्ली पुलिस के चंद गिने-चुने “पड़तालियों” में की जाती है.

भीष्म सिंह की जगह पर डीसीपी क्राइम बनाकर अब 2011 बैच के आईपीएस अधिकारी मनोज सी को भेजा गया है. मनोज सी अभी तक बाहरी-उत्तर जिले में एडिश्नल डीसीपी-1 पद पर तैनात थे. इसी तरह सिक्योरिटी में तैनात डीसीपी सचिन कुमार सिंघल (2017 बैच आईपीएस) को भी ट्रांसफर किया गया है. सिंघल को अब एडिश्नल डीसीपी-1 बाहरी उत्तर जिला बनाकर भेजा गया है.

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*