Breaking News
Home 25 दिल्ली 25 सत्येंद्र जैन की जमानत अर्जी खारिज, जेल में ही रहना होगा, मंत्री पद से क्‍यों नहीं हटा रहे केजरीवाल ?

सत्येंद्र जैन की जमानत अर्जी खारिज, जेल में ही रहना होगा, मंत्री पद से क्‍यों नहीं हटा रहे केजरीवाल ?

Spread the love

नई दिल्‍ली। मनी लॉन्ड्रिंग मामले में दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री और आम आदमी के नेता सत्येंद्र जैन की जमानत अर्जी शनिवार को सीबीआई की विशेष अदालत ने खारिज कर दी। विशेष न्यायाधीश गीतांजलि गोयल ने जैन को राहत देने से इनकार करते हुए कहा कि उन्हें जमानत देने के लिए मामले का यह सही चरण नहीं है। गौरतलब है कि अदालत ने जैन और ईडी की दलीलें सुनने के बाद आदेश 14 जून को सुरक्षित रख लिया था। ईडी ने जैन को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में 30 मई को गिरफ्तार किया था। उन्हें PMLA की आपराधिक धाराओं के तहत हिरासत में लिया गया था। जैन फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं। जमानत याचिका खारिज होने के बाद अब सवाल उठ रहे हैं कि केजरीवाल के सामने क्या मजबूरी है ? वे किस वजह से सत्येंद्र जैन को मंत्री पद से हटा नहीं पा रहे हैं ? जबकि पंजाब में भगवंत मान ने एक मंत्री को घूस लेने की जानकारी मिलने के बाद ना सिर्फ मंत्री पद से हटा दिया क बल्कि मुकदमा भी दर्ज करा दिया था।

ईडी से कहा था कोरोना के कारण चली गई है याददाश्त

बता दें कि सत्येंद्र जैन ने पूईडी के पूछताछ में हैरान करने वाला खुलासा किया था। जमानत याचिका पर सुनवाई के दौरान ईडी ने दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट को बताया कि सत्येंद्र जैन से कुछ कागजातों के बारे में सवाल किये गए थे। हवाला से पैसा पाने वाले ट्रस्ट से सत्येंद्र जैन का क्या कनेक्शन है ? वे उसके मेंबर क्यों है ? पैसे कहां से आए ? इस दौरान सत्येंद्र जैन ने कहा कि उनको कोरोना हुआ था, जिसकी वजह से अब उनकी याददाश्त चली गई है।

पिछले हफ्ते राउज एवेन्यू कोर्ट में ईडी की ओर से पेश हुए एएसजी राजू ने कहा था, ‘वह (सत्येंद्र जैन) बहुत स्लो राइटर भी हैं, एक पेज लिखने में लगभग दो घंटे का समय लगता है। उनका बयान उनकी लिखावट में लिया जाना है अन्यथा वह कहते हैं ‘यह मेरा बयान नहीं है’।

सत्येंद्र जैन के इस स्वीकारोक्ति के बाद अब सवाल उठ रहे हैं कि क्या सत्येंद्र जैन ईडी के सवालों से बचने और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को बचाने के लिए ड्रामा कर रहे हैं? अगर सत्येंद्र जैन की बात सही है, तो केजरीवाल ने दिल्ली के लोगों के साथ भद्दा मजाक किया है। उन्होंने एक मानसिक रोगी को दिल्ली का स्वास्थ्य मंत्री बनाये रखा है ?

सत्येंद्र जैन का बयान मीडिया में आते ही कवि कुमार विश्वास को भी निशाना साधने का मौका मिल गया। उन्होंने एक रोचक ट्वीट किया था। इस ट्वीट को पढ़ने के बाद हर किसी के चेहरे पर मुस्कान आ ही जाती है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, “भारत-रत्न! हवाला के पेपर देख बोले मंत्री जी- कोरोना से मेरी याददाश्त चली गई।”

दरअसल, सत्येंद्र जैन की जमानत याचिका पर कोर्ट ने 14 जून को सुनवाई की थी। कोर्ट ने जमानत पर फैसला सुरक्षित रख लिया था। यह जमानत याचिका पिछले सप्ताह ही दायर की गई थी। दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट शनिवार को जैन की याचिका पर अपना फैसला सुनाया। ईडी ने जैन को 30 मई की रात को गिरफ्तार किया था।

गौरतलब है कि 6 जून को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने ‘आप’ नेता के घर सहित उनके 7 ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी की थी। इस दौरान ईडी ने 2.82 करोड़ रुपये की अघोषित नकदी और 1.80 किग्रा सोना बरामद किया था। इसके बाद ईडी ने 9 जून को मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में जैन को दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश किया था। ईडी ने दावा किया था कि केजरीवाल के मंत्री सत्येंद्र जैन ने पत्नी और बेटियों के नाम पर 16 करोड़ की धोखाधड़ी की है।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*