Breaking News
Home 25 दिल्ली 25 स्‍पेशल सेल और यूपी एसटीएफ से मुठभेड के बाद बॉक्सर-गोगी गैंग का गैंगस्‍टर गिरफ्तार

स्‍पेशल सेल और यूपी एसटीएफ से मुठभेड के बाद बॉक्सर-गोगी गैंग का गैंगस्‍टर गिरफ्तार

Spread the love

नई दिल्‍ली। दिल्‍ली पुलिस की स्‍पेशल सेल ने दीपक बॉक्सर-गोगी गिरोह के एक कुख्यात गैंगस्टर संदीप उर्फ बासी को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है। उसके कब्‍जे से एक पिस्‍टल व चोरी की बाइक बरामद की गई है। पकडे गए बदमाश ने पिछले तीन महीनों में दिल्ली, यूपी, उत्तराखंड और हरियाणा में एक हत्या समेत गोलीबारी, डकैती, अपहरण  व कार-जैकिंग की आधा दर्जन वारदातों को अंजाम दिया था।

डीसीपी जसमीत सिंह

स्‍पेशल सेल के डीसीपी जसमीत सिंह ने बताया कि सदर्न रेंज की टीम के एसीपी अतर सिंह व इंसपेक्‍टर शिव कुमार, करमवीर सिंह तथा पवन कुमार ने यूपी पुलिस की एसटीएफ के साथ संयुक्त अभियान बॉक्सर-गोगी गिरोह कुख्यात गैंगस्टर को संदीप उर्फ बासी (22) को गिरफ्तार किया वह  नरेला, दिल्ली का रहने वाला है। पुलिस को उसके नरेला औद्योगिक क्षेत्र के शनि बाजार में आने के सूचना मिली थी। जिसके बाद स्‍पेशल सेल वे यूपी एसटीएफ की टीम ने जाल बिछाया था। पकडे जाने से पहले संदीप उर्फ ​​बासी ने पुलिस पर हमला किया जिसके जवाब में पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की जिसके दौरान बसी के दाहिने पैर में चोट लग गई। पुलिस ने उसके कब्‍जे से 3 जिंदा कारतूस के साथ .30 की एक सेमी-ऑटोमैटिक पिस्टल बरामद चोरी की स्प्लेंडर मोटरसाइकिल भी बरामद की है।

एसीपी अतर सिंह के मुताबिक संदीप उर्फ ​​बासी दिल्ली में एक हत्या और 3 अन्य सहित चार आपराधिक मामलों में पहले गिरफ्तार हो चुका है। उसने खुलासा किया है कि वह दिल्ली, यूपी, उत्तराखंड और हरियाणा राज्यों में करीब 6 सनसनीखेज वारदातों को अंजाम देकर फरार चल रहा था।

एसीपी अतर व इंसपेक्‍टर शिव कुमार

डीसीपी के मुताबिक संदीप उर्फ ​​बासी के साथ अतुल उर्फ ​​मोटा, सनी काकरान और उसके 5 और साथियों ने 18 अप्रैल 2022 को गन पॉइंट पर हरिद्वार के भगवानपुर इलाके में एक पेट्रोल पंप से नकदी लूट ली थी। 20 मई को मेरठ के कंकरखेड़ा में एक अन्‍य वारदात में उसने घर में घुसकर प्रयाग नामक युवक की गोली मारकर हत्‍या कर दी थी। दरअसल मृतक के साथ सनी काकरान का एक जमीन का विवाद चल रहा था इसी में समझौता नहीं करने के कारण संदीप बासी व सन्‍नी ने प्रयाग की हत्‍या की थी। इससे पहले संदीप ने अपने साथियों के साथ 1 मई को हरियाणा के यमुना नगर से बंदूक की नोक पर एक बाइक भी लूट ली थी। बाद में इसी बाइक से यमुना नगर में एक पेट्रोल पंप से बंदूक की नोक पर नकदी लूटी थी। इस‍के बाद संदीप ने अतुल, सनी काकरान और तीन अन्य के साथ 11 मई को हरिद्वार से कैब किराए पर लेकर कैब चालक का अपहरण कर लिया और उसे मेरठ के दौराला इलाके में छोड़कर कैब लूटकर फरार हो गए ।

इस गिरोह के सदस्य दौराला मेरठ क्षेत्र में 13 मई को पुलिस पर हमला और फायरिंग के मामले में भी वांछित हैं। इस हमले के दौरान गैंग के दो सदस्‍य मेरठ पुलिस के हत्‍थे चढ़ गए थे। संदीप गिरोह के अतुल उर्फ ​​मोटा, सन्नी काकरान, नसरुद्दीन व अन्‍य लोगों के साथ के.एन. काटजू मार्ग पर 23 मार्च को प्रवेश मान और सुनील टिल्लू उर्फ ​​ताजपुरिया के गिरोह के शेखर उर्फ ​​सन्नाटा की गोली मारकर हत्‍या कर दी थी।

इस गिरोह 15 मई को भी बवाना इलाके में पारुल उर्फ ​​अनुज की भी गोली मारकर हत्या कर दी थी। पारुल उर्फ ​​अनुज नवीन बाली (नीरज बवाना गैंग) का रिश्तेदार था। संदीप उर्फ ​​बसी अपने गिरोह के सदस्यों को मदद पहुंचाकर इन दोनों हत्याओं को अंजाम दिलाया था। गिरफ्तार गैंगस्टर संदीप उर्फ ​​बासी व उसके साथी अतुल मोटा व सनी काकरान दीपा के गिरोह के साथ काम कर रहे हैं

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*